Daily Updated Punjabi News Website

दिलचस्प: भाई को फंसाने के लिए गढ़ी डकैती की कहानी, फिर पुलिस से कहा-Sorry

0

कल्याणपुर पुलिस के सामने गुरुवार को एक दिलचस्प मामला आया। मिर्जापुर के एक बुजुर्ग दंपति ने भोर में कंट्रोल रूम फोनकर घर में डकैती की सूचना दी। सूचना पर एसपी वेस्ट, सीओ कल्याणपुर, इंस्पेक्टर भारी फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे तो पीड़ित ने अपने ही वर्दीधारी भाई व उनके आधा दर्जन साथियों पर डकैती का आरोप लगाया। पुलिस ने मामले की जांच शुरू की तो जमीन के विवाद को लेकर पेशबंदी के चलते डकैती की कहानी गढ़ने की बात सामने आई। मामले का खुलासा होने पर बाद में पीड़ित ने गिड़गिड़ाते हुए पुलिस से माफी भी मांगी।

सचेंडी के बिछौना गांव के मूल निवासी किसान बनवारी लाल यादव पत्नी राजकुमारी व छोटे बेटे लालू के साथ मिर्जापुर नई बस्ती में रहते हैं। गुरुवार भोर बनवारी लाल यादव ने पुलिस कंट्रोल रूम फोनकर बताया कि असलहाधारी आधा दर्जन बदमाशों ने मारपीट कर दो लाख का डाका डाल दिया है। डकैती की सूचना पर एसपी वेस्ट डॉ. गौरव ग्रोवर, कल्याणपुर सीओ नवीन कुमार सिंह, इंस्पेक्टर देवेंद्र विक्रम सिंह फोर्स के साथ पहुंचे।

पीड़ित बनवारी ने पुलिस को बताया कि एक वर्दीधारी आधा दर्जन साथियों के साथ छत के रास्ते घर में घुसा। मारपीट के बाद वर्दीधारी ने बनवारी से चाभी मांगी। वर्दीधारी की आवाज उनके भाई होमगार्ड देवराज से मिल रही थी। इस आधार पर पुलिस देवराज व उसके परिवार को पूछताछ के लिए कल्याणपुर थाने लाई। देवराज ने बताया कि दो दिन पहले जमीन के विवाद को लेकर बनवारी और लालू ने मारपीट की थी, जिसकी तहरीर सचेंडी थाने में दी थी। इसी के चलते दूसरे पक्ष ने डकैती की पूरी कहानी गढ़ी। कल्याणपुर इंस्पेक्टर ने बताया कि बुजुर्ग दंपति के साथ डकैती की घटना निराधार है। बुजुर्ग ने जमीन विवाद में पेशबंदी के चलते डकैती की कहानी गढ़ी। मामले की जांच कर उचित कार्रवाई की जाएगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Translate »