Daily Updated News Website

चड्ढा आत्महत्या मामले में मेरी बहन को गलत ढंग से फंसाया- सिमरन

पांच साल से चड्ढा के साथ कुलजीत का नहीं था कोई वास्ता: सिमरन कुलजीत की बहन ने पूछा: आरोपी पुलिस अफसर क्यों बख्शे

0
अमृतसर-  इंद्रप्रीत सिंह चड्ढा सुसाइड मामले में पूर्व ओलपिंयन की बेटी कुलजीत कौर घुमाण को गलत ढंग से फंसाया गया है। यह दावा कुलजीत की बहन सिमरन ने आज यहां जारी एक प्रैस बयान में किया। उसने कहा कि उसकी प्रवासी भारतीय बहन कैंसर की मरीज है तथा पिछले 5 वर्षों से उसका चड्ढा के साथ कोई वास्ता नहीं है।
सिमरन ने कहा कि शिकायतकर्ता ने उसकी बहन को इस मामले में गलत ढंग से फंसाया है। उसके अनुसार सुसाइड नोट में कुलजीत का नाम भी नहीं था, फिर भी पैसे जोर पर उसको इस मामले में फंसा दिया गया है।
अपने दावे की पुष्टि करते हुए सिमरन ने कहा कि मरने वाले ने लुधियाना वेस्ट के ए.सी.पी., एनआरआई कमिश्रर तथा दिल्ली हाईकोर्ट के पास शिकायत की थी, पर वह कई वर्षों तक इसके सबूत नहीं दे सका था। उसने कहा कि मृतक का कुलजीत तथा अमरीका आधारित फ्रांसीसी के साथ त्रिपक्षीय समझौता हुआ था।
उसके अनुसार मृतक अपनी फ्रेंचाइजी की जिम्मेवारियों में फेल हो गया था तथा गैर कानूनी गतिविधियों में शामिल हो गया था। उसने कहा कि शिकायत कर्ता कंपनी में शेयर धारक तथा निर्देशक के तौर पर जिम्मेवारी थी तथा कार्पोरेट की देनदारी से बचने के लिए ही शिकायतकर्ता ने झूठे आरोप लगाए हैं।
उन्होंने कहा कि जांच टीम ने उनके द्वारा दायर किए 2000 पन्नों की जांच करने की जरूरत नहीं समझी तथा ना ही उन्होंने शिकायतकर्ता द्वारा डाले 70 सवालों संबंधी कोई कार्रवाई की है। उन्होंने कहा कि इससे साबित होता है कि जांच टीम इस मामले की सच्चाई सामने लाना ही नहीं चाहती।
उसने कहा कि कुलजीत ने विशेष जांच टीम (सिट) की जांच में पूरा सहयोग दिया था तथा करीब 10 बार वह सिट के सामने पेश हुई थी। उसने कहा कि यह बड़ा हैरानीजनक है कि सहयोग देने के बावजूद सिट ने कुलजीत को गिरफ्तार कर लिया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Translate »